गांगुली का बड़ा बयान, अगर धोनी इस क्रम पर बल्लेबाजी करते तो अधिक खतरनाक साबित होते

7/7/2020 6:31:25 PM

कोलकाता : महेंद्र सिंह धोनी को खेल के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर में से एक माना जाता है लेकिन उनके 39वें जन्मदिन के मौके पर पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि विश्व कप विजेता टीम के कप्तान रहे धोनी अगर बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आते तो और अधिक खतरनाक हो सकते थे। 

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के मौजूदा अध्यक्ष गांगुली ने बीसीसीआई के ट्विटर हैंडल पर भारत के युवा सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को चैट शो के दौरान कहा, ‘वह सिर्फ फिनिशर नहीं है बल्कि विश्व क्रिकेट के महान खिलाड़ियों में से एक है। सभी इस बारे में बात करते हैं कि वह निचले क्रम में कैसे मैच को फिनिश करते हैं। मेरा हमेशा से मानना रहा है कि उसे बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आना चाहिए क्योंकि वह विध्वंसक बल्लेबाज है।' 

धोनी ने 23 दिसंबर 2004 को बांग्लादेश के खिलाफ गांगुली की कप्तानी में ही अंतरराष्ट्रीय पदार्पण किया था। गांगुली ने याद किया कि किस तरह पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 148 रन की पारी खेलकर धोनी ने सुर्खियां बटोरी है। गांगुली ने कहा, ‘यह शानदार था। अगर आप एकदिवसीय क्रिकेट का इतिहास देखो तो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी दबाव में भी लगातार बाउंड्री लगा सकते हैं। महेंद्र सिंह धोनी उनमें से एक था और यही कारण है कि वह विशेष था।' 

PunjabKesari

यह पूछने पर कि क्या उन्होंने धोनी को टीम में चुना था, गांगुली ने कहा, ‘हां यह सकी है लेकिन यह मेरा काम है, क्या ऐसा नहीं है? यह प्रत्येक कप्तान का काम होता है कि वह सर्वश्रेष्ठ को चुने और सर्वश्रेष्ठ संभव टीम बनाए।' धोनी को पिछले बार खेलते हुए लगभग एक साल पहले देखा गया था जब विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में मार्टिन गुप्टिल के शानदार थ्रो पर वह रन आउट हुए थे और भारत हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गया था। 


Sanjeev

Related News