ग्रांड मास्टर निहाल का खास इंटरव्यू : "कांस्य पदक बुरा नहीं है और हम इसे दोनों हाथों से लेंगे" :निहाल सरीन

punjabkesari.in Thursday, Aug 18, 2022 - 08:30 PM (IST)

भारतीय टीम को जब हाल में ओलंपियाड का कांस्य पदक मिला तो उसमें भारत के लिए दूसरे बोर्ड पर खेल रहे ग्रांड मास्टर निहाल सरीन का बड़ा योगदान रहा , केरल राज्य से आने वाले 18 वर्षीय निहाल नें दूसरे बोर्ड पर देश के लिए दीवार का काम किया और अपराजित रहते हुए दूसरे बोर्ड से 10 मुकाबलों में 5 जीत और 5 ड्रॉ के साथ 7.5 अंक बनाए साथ ही व्यक्तिगत स्वर्ण पदक हासिल किया । इस दौरान अंतिम राउंड में जर्मनी के खिलाफ करो या मरो के मुक़ाबले में मैथ्यू ब्लूबम के खिलाफ शानदार जीत से भारत को जीत दर्ज करने मे प्रमुख भूमिका निभाई । निहाल नें प्रतियोगिता में 2770 का प्रदर्शन करते हुए अपनी फीडे रेटिंग को 2670 पर पहुंचा दिया है । निहाल नें पंजाब केसरी के प्रतिनिधि निकलेश जैन से खास बात चीत की ।

निहाल आपको ओलंपियाड का स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई ,आपके लिए हमारे सवाल कुछ यूं है ?

ओलंपियाड में अपने प्रदर्शन को किस तरह से आँकेंगे ? 

मैं अपने प्रदर्शन से बेहद खुश हूं, टूर्नामेंट के दौरान में मजबूत खेलने और कुछ अच्छे मुक़ाबले जीतने में कामयाब रहा, व्यक्तिगत पदक के बारे में बिल्कुल भी नहीं सोच रहा था, शायद यही वजह है कि मुझे यह मिला ।

PunjabKesari

आपकी टीम स्वर्ण पदक जीतने की बेहद नजदीक थी एक टीम के तौर पर ओलंपियाड खेलने का अनुभव कैसा रहा ?

 यह एक शानदार अनुभव था सभी के साथ एक टीम के रूप में जो एक दूसरे के बहुत अच्छे दोस्त हैं। गुकेश, प्राग, रौनक और मैं एक ही उम्र के हैं और अधिबन बहुत अच्छे हैं । उज्बेकिस्तान के खिलाफ परिणाम बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था, लेकिन अन्य मैचों में भी हमारी किस्मत अच्छी थी, विशेष रूप से अजरबैजान के खिलाफ जिसमें हम बड़ी परेशानी में थे। तो सभी बातों पर विचार करें, कांस्य बिल्कुल भी बुरा नहीं है और हम इसे दोनों हाथों से लेंगे!

आप टीम के लिए एक दीवार बनकर खड़े रहे और एक भी मैच नहीं हारा ,क्या ओलंपियाड के पहले आपको कोई खास रोल दिया गया था ?

यह एक तरह की योजना थी, लेकिन मैंने अपना स्वाभाविक खेल खेला और हालांकि कुछ मुकाबलों में मैं मुश्किल में था, पर अंत में सब कुछ खूबसूरती से काम कर गया।

भारत में शतरंज ओलंपियाड की आपको सबसे अच्छी बात क्या लगी ?

सबसे बड़ी बात यह थी कि मुझे खेलने का मौका मिला, यह मेरे लिए एक महान अवसर था और जिसका मुझे हमेशा से इंतजार था । टूर्नामेंट के बारे में सब कुछ शानदार था,आयोजन, मैच स्थल, होटल और क्या नहीं। मुझे यकीन है कि यह भारतीय शतरंज के लिए बहुत बड़ा प्रोत्साहन होगा।

PunjabKesari

आपका पसंदीदा खेला गया मुक़ाबला कौन सा है ?

मुझे यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका के खिलाफ हमारा मैच बहुत पसंद आया। हम चारों ने वास्तव में अच्छा खेला और गुकेश और रौनक शानदार थे। उस जीत हमें काफी आत्मविश्वास मिला ।

आपके सभी साथी खिलाड़ी इस समय बहुत अच्छा खेल रहे है ,क्या आपके बीच दोस्ती के साथ प्रतिस्पर्धा का भी माहौल है ?

हमारे बीच कुछ प्रतिस्पर्धा है लेकिन हम सभी शतरंज के बोर्ड के बाहर बहुत अच्छे दोस्त हैं और विशेष रूप से इस टूर्नामेंट के दौरान प्रतिस्पर्धा का कोई माहौल नहीं है।

PunjabKesari

आने वाले समय में किस आप तरह के टूर्नामेंट खेलना चाहते है ?

 मैं सिर्फ बहुत मजबूत टूर्नामेंट खेलना चाहता हूं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह कौन सा है ।

निहाल का पसंदीदा खिलाड़ी कौन है ?

मैं बहुत से शीर्ष खिलाड़ियों की प्रशंसा करता हूं, लेकिन मुझे विशेष रूप से मैग्नस कार्लसन के खेल पसंद हैं।

अगर आपको मौका मिले तो किस खिलाड़ी से आप मैच की सीरीज खेलना चाहेंगे ?

इसके बारे में सोचा नहीं है, शायद फ्रांस के अलीरेज़ा फ़िरोज़ा!?


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niklesh Jain

Related News

Recommended News