IND v ENG महिला टेस्ट : स्नेह राणा ने अपने पिता को समर्पित किया डेब्यू प्रदर्शन

6/17/2021 11:07:12 AM

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय महिला क्रिकेट टीम की नई स्पिनर स्नेह राणा ने इंग्लैंड के खिलाफ एक मात्र टेस्ट के पहले दिन तीन विकेट लेकर भारत की वापसी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस शानदार प्रदर्शन को उन्होंने अपने दिवंगत पिता को समर्पित किया, जिनका 2 महीने पहले निधन हो गया था। इस 27 वर्षीय स्पिनर के मुताबिक उन्हें टीम मीटिंग में डेब्यू के बारे में पता चला था। 

उन्होंने कहा, अभ्यास सत्र में हम कप्तान (मिताली राज) और कोच (रमेश पोवार) से बात करते थे कि क्या करना है, कैसे गेंदबाजी करनी है। ऑलराउंडर स्नेह राणा ने टीम इंडिया में अपनी वापसी को अपने दिवंगत पिता को समर्पित किया। उन्होंने कहा, मैं पहली बार किसी टेस्ट में खेल रही थी, जहां परिदृश्य वनडे और टी20 से थोड़ा अलग है, इसलिए हम इसके बारे में रोजाना बात करते थे। 

उन्होंने कहा, मैंने दो महीने पहले अपने पिता को खो दिया था। जब इस टीम की घोषणा की गई थी, उससे थोड़ा पहले, मैंने उन्हें खो दिया। यह थोड़ा मुश्किल था, यह एक भावनात्मक क्षण था क्योंकि वह मुझे भारत के लिए फिर से खेलते देखना चाहते थे। लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो सका। यह ठीक है, यह जीवन का हिस्सा है, लेकिन उनके बाद मैंने जो कुछ भी किया और अब जो भी करूंगी, मैं अपना सब कुछ उन्हें समर्पित कर दूंगी। 

राणा ने कहा कि पिच थोड़ी धीमी थी, लेकिन यह उनके अनुकूल थी क्योंकि इसने शुरुआत से ही दाएं मुड़ने की पेशकश की थी।इंग्लैंड को 2 विकेट पर 230 रनों पर शानदार खेल रही थी लेकिन लेकिन राणा और दीप्ति शर्मा ने अंतिम सत्र में भारत को एकतरफा टेस्ट में वापस लाने के लिए 2 विकेट दिलाए। इंग्लैंड ने 4 विकेट 7 ओवर में महज 21 रन पर गंवा दिए। 

राणा ने एक दिन के खेल के बाद प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, शुरुआती चरण में पिच थोड़ी धीमी थी, लेकिन इससे स्पिनरों को मदद मिली, क्योंकि यह शुरू से ही थोड़ा टर्न हो रही थी। यह बल्लेबाजी करने के लिए एकदम सही विकेट है। मुझे लगता है कि विकेट कल भी ऐसा ही रहेगा। इंग्लैंड की महिला टीम ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक कप्तान हीथर नाइट की 95 रन की पारी की बदौलत 269/6 का स्कोर बनाया। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Recommended News

static