खिलाड़ियों और संगठनों के लिए पाकिस्तान को ना कहना बहुत आसान है : ख्वाजा

9/23/2021 5:03:52 PM

स्पोर्ट्स डेस्क : ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर उस्मान ख्वाजा को लगता है कि खिलाड़ियों और टीमों के लिए पाकिस्तान दौरे को ना कहना बहुत आसान है। उनका यह भी मानना ​​​​है कि अगर भारत के साथ ऐसा होता तो हालात अलग होते। पिछले शुक्रवार न्यूजीलैंड ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए रावलपिंडी में पहला वनडे शुरू होने से कुछ मिनट पहले पाकिस्तान में अपना वनडे दौरा रद्द कर दिया था। इसके बाद सोमवार को इंग्लैंड ने अक्टूबर में पाकिस्तान में पुरुषों और महिलाओं के सफेद गेंद के दौरे से हाथ खींच लिया था। 

ख्वाजा ने कहा, 'मुझे लगता है कि खिलाड़ियों और संगठनों के लिए पाकिस्तान को ना कहना बहुत आसान है क्योंकि यह पाकिस्तान है। मुझे लगता है कि अगर बांग्लादेश होता तो भी यही बात लागू होती। लेकिन कोई भी भारत को ना नहीं कहेगा, अगर वे समान स्थिति में होते तो। उन्होंने कहा, पैसा बात करता है, हम सभी जानते हैं कि इसका एक बड़ा हिस्सा है। वे अपने टूर्नामेंट के माध्यम से बार-बार साबित करते रहते हैं कि वे क्रिकेट खेलने के लिए एक सुरक्षित जगह हैं। मुझे लगता है कि कोई कारण नहीं है कि हमें क्यों वापस नहीं जाना चाहिए। 

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में पैदा हुए और पांच साल की उम्र से सिडनी में रहने वाले ख्वाजा ने कहा कि उनके करीबी दोस्त बेन कटिंग ने पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के लिए वहां की यात्रा करते समय वास्तव में सुरक्षित महसूस किया। उन्होंने कहा, बहुत सुरक्षा है। भारी सुरक्षा। मैंने लोगों को सुरक्षित महसूस करने के बारे में रिपोर्ट के अलावा कुछ नहीं सुना है। ख्वाजा आखिरी बार अगस्त 2019 में इंग्लैंड में एशेज के दौरान एक टेस्ट में देखे गए थे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Recommended News

static