कोहली कभी लगातार दो शृंख्ला खराब नहीं खेले, सभी प्रारूपों में हैं बेहतर : फिंच

6/30/2020 3:20:53 PM

मुंबई : आस्ट्रेलिया के सीमित ओवरों के कप्तान आरोन फिंच का कहना है कि भारत जैसे क्रिकेट के दीवाने देश में लोगों की अपेक्षाओं का बोझ काफी है लेकिन विराट कोहली ने बतौर कप्तान शानदार प्रदर्शन किया है। फिंच ने कहा कि खिलाड़ी खराब दौर से गुजरते हैं लेकिन कोहली, स्टीव स्मिथ, रिकी पोंटिंग और सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी अपवाद हैं।

कोहली का कभी बुरा दौर नहीं आया

Kohli never played two consecutive series poorly, all formats are better: Finch

फिंच ने कहा- हर खिलाड़ी का एक खराब दौर आता है लेकिन कोहली, स्मिथ, पोंटिंग और तेंदुलकर ऐसे खिलाड़ी थे जिनका फार्म कभी भी लगातार 2 श्रृंखलाओं में खराब नहीं रहा। फिंच ने कहा- भारत के लिए खेलने का दबाव अलग है और कप्तानी का अलग और जिस तरह से कोहली लंबे समय से दोनों काम कर रहे हैं, वह लाजवाब है।

कप्तान के बावजूद अच्छा प्रदर्शन किया

भारतीय क्रिकेट के लिए 'विराट साल' रहा ...

उन्होंने कहा- महेंद्र सिंह धोनी से कप्तानी लेने के बाद अपेक्षाएं काफी थी और वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करता रहा। यह काफी प्रभावशाली है। उन्होंने कहा- सबसे प्रभावी बात तो तीनों प्रारूपों में उसका लगातार अच्छा खेलना है। वनडे क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज होना और फिर टेस्ट और टी-20 में उस कामयाबी को दोहराना, काबिले तारीफ है।

लार की लत छूटने में लगेगा टाइम

विराट कोहली की सबसे बड़ी कमजोरी आई ...

आईसीसी ने गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है और फिंच ने कहा कि खिलाडिय़ों को इसकी आदत हो जाएगी। उन्होंने कहा- मैंने इंग्लैंड या वेस्टइंडीज टीमों से बात नहीं की है लेकिन मुझे लगता है कि अगले कुछ महीने में खिलाड़ी इसके आदी हो जाएंगे। गेंद को चमकाने के दूसरे तरीके तलाशे जाएंगे।


Jasmeet

Related News