नॉरी और बाडोसा ने पहली बार इंडियन वेल्स खिताब जीता

10/18/2021 11:10:13 AM

इंडियन वेल्स : कई बड़े खिलाड़ियों ने कोरोना महामारी के कारण देर से आयोजित बीएनपी परीबस ओपन में भाग नहीं लिया तो कई बड़े नाम उलटफेर का शिकार हो गए। नतीजतन दो ऐसे खिलाड़ी चैम्पियन बने जो विश्व रैंकिंग में शीर्ष 25 में भी नहीं हैं। ब्रिटेन के कैमरन नॉरी ने निकोलोज बासिलाश्विली को 3.6, 6.4, 6.1 से हराकर पुरूष एकल खिताब जीता। 

वहीं स्पेन की पाउला बाडोसा ने विक्टोरिया अजारेंका को 7.6, 2.6, 7.6 से मात देकर खिताब अपने नाम किया। वह पहली बार खेलते हुए यह टूर्नामेंट जीतने वाली तीसरी महिला बन गई। नोवाक जोकोविच, रफेल नडाल, रोजर फेडरर, नाओमी ओसाका और सेरेना विलियम्स ने इस टूर्नामेंट से नाम वापिस ले लिया था। वहीं दानिल मेदवेदेव और कैरोलिना प्लिसकोवा जैसे शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाड़ी उलटफेर का शिकार हो गए। 

नॉकी और बाडोसा ने अपने कैरियर का सबसे बड़ा खिताब जीता और 12 लाख डॉलर भी अपनी झोली में डाले। विश्व रैंकिंग में 26वें स्थान पर काबिज नॉरी से पहले इवान जुबिचिच (2019), एलेक्स कोरेत्जा (2000) और जिम कूरियर (1991) शीर्ष 25 से बाहर रहने के बावजूद खिताब जीतने वाले खिलाड़ी थे। वहीं महिला वर्ग में बियांका आंद्रिस्कू ने 2019 में और सेरेना विलियम्स ने 1999 में पदार्पण करके टूर्नामेंट जीता था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Sandeep

Related News

Recommended News