टी20 विश्व कप 2024 तक कप्तान रहें रोहित, रहाणे और पुजारा के भविष्य पर भी बोले गांगुली

punjabkesari.in Friday, Dec 01, 2023 - 04:05 PM (IST)

कोलकाता : वनडे विश्व कप में रोहित शर्मा की कप्तानी से प्रभावित पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें कम से कम अगले साल टी20 विश्व कप तक भारत का कप्तान बने रहना चाहिए। रोहित की कप्तानी में भारतीय टीम लगातार दस मैच जीतकर विश्व कप के फाइनल में पहुंची जहां उसे ऑस्ट्रेलिया ने छह विकेट से हराया। रोहित और विराट कोहली ने दस दिसंबर से दक्षिण अफ्रीका में होने वाली सीमित ओवरों की श्रृंखला से ब्रेक लिया है। 

गांगुली ने कहा कि दोनों को आराम की जरूरत है ताकि आगे के व्यस्त कार्यक्रम के लिए तरोताजा रहें। उन्होंने यहां एक प्रचार कार्यक्रम से इतर कहा, ‘रोहित को सभी प्रारूपों में लौटने के बाद भारत की कप्तानी करनी चाहिए क्योंकि उसने विश्व कप में इतना शानदार प्रदर्शन किया।' उन्होंने कहा, ‘विश्व कप में आपने देखा कि उन्होंने कैसा खेला। वे भारतीय क्रिकेट का अभिन्न अंग हैं।' 

रोहित और विराट ने 2022 टी20 विश्व कप के बाद से टी20 क्रिकेट नहीं खेला है। उसके बाद से हार्दिक पांड्या भारत के टी20 कप्तान हैं लेकिन उनके चोटिल होने से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सूर्यकुमार यादव कप्तानी कर रहे हैं। गांगुली ने कहा, ‘विश्व कप द्विपक्षीय श्रृंखला से अलग है क्योंकि दबाव अलग है। इस विश्व कप में भारत ने शानदार प्रदर्शन किया और छह सात महीने बाद वेस्टइंडीज में भी उसे दोहराएंगे। रोहित एक लीडर है और मुझे उम्मीद है कि वह टी20 विश्व कप में भी कप्तान होगा।' 

बीसीसीआई ने मुख्य कोच राहुल द्रविड़ के कार्यकाल में भी कम से कम टी20 विश्व कप तक विस्तार किया है हालांकि अभी उनके कार्यकाल का खुलासा नहीं हुआ है। गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष रहते हुए ही द्रविड़ कोच बने थे और उनके कार्यकाल में विस्तार पर गांगुली ने खुशी जताई। उन्होंने कहा, ‘मुझे इसमें कोई हैरानी नहीं कि उन्होंने द्रविड़ पर भरोसा जताया है। जब मैं बोर्ड का अध्यक्ष था तो हमने उन्हें इस पदभार को संभालने के लिए राजी किया था। मुझे खुशी है कि उनका कार्यकाल बढ़ाया गया।' 

उन्होंने कहा, ‘भले ही भारत ने विश्व कप नहीं जीता लेकिन भारतीय टीम टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ टीम थी। उसके पास सात महीने बाद एक और विश्व कप खेलने का मौका है। उम्मीद है कि इस बार उपविजेता नहीं, चैम्पियन होंगे।' 

टेस्ट विशेषज्ञ अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो टेस्ट के लिये टीम में जगह नहीं मिली। गांगुली ने इस पर कहा, ‘कभी न कभी तो नई प्रतिभाओं को मौका देना ही होगा। भारत में इतनी प्रतिभाएं हैं कि टीम को आगे बढ़ना होता है। पुजारा और रहाणे काफी कामयाब रहे लेकिन खेल हमेशा आपके साथ नहीं रहता। आप हमेशा नहीं खेल सकते। यह सभी के साथ होगा। भारतीय क्रिकेट के लिए उनके योगदान पर मैं उन्हें धन्यवाद देना चाहूंगा।' 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Recommended News

Related News