तालिबान शासन ने छीना अफगान क्रिकेट टीम का घर, अब यह देश होगा टीम का नया ठिकाना

punjabkesari.in Monday, Nov 28, 2022 - 02:06 AM (IST)

स्पोर्ट्स डेस्क: तालिबान सरकार के करूर शासन ने यहां अफगानिस्तान के लोगों के आम जन-जीवन को प्रभावित किया हैं, वहीं  इस शासन में अफगानिस्तान क्रिकेट की हालत भी खस्ता होते जा रही है। कोई भी अंतर्राष्ट्रीय टीम अफगानिस्तान का दौरा सुरक्षा कारणों की वजह से नहीं कर रही है। वहीं, अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड की स्थिति को देखते हुए अब यूएई के क्रिकेट बोर्ड ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ओर मदद का हाथ बढ़ाया है। यूएई के अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के साथ करार किया है, जिसके मुताबिक अगले 5 साल तक यूएई की धरती पर अफगानिस्तान के अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी की जाएगी।

दोनों क्रिकेट बोर्डों के करार में एक बड़ा फैसला भी लिया गया है, जिसके मुताबिक यूएई और अफगान टीम आपस में हर साल 3 टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के एक बयान में इस करार की जानकारी दी गई है। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कहा," यूएई क्रिकेट बोर्ड इस करार से अफगानिस्तान टीम को वीजा की सहायता और क्रिकेट टीम के लिए कार्यालय स्थान सहित कई अन्य प्रकार की मदद करेगा।

वहीं यूएई क्रिकेट बोर्ड के सेक्रेटरी मुबाशीर उस्मानी ने बयान देते हुए कहा,"हमारे देश के क्रिकेट बोर्ड और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के बीच काफी अच्छे संबंध हैं। हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि अफगानिस्तान के पास क्रिकेट के लिए एक नया घर है। यूएई टीम के खिलाफ हर साल एक टी20 मैचों की सीरीज खेलने के लिए अफगानिस्तान की ओर से सहमति जताने के लिए हम उनके आभारी हैं।'

गौरतलब है कि अफगानिस्तान क्रिकेट टीम अगले साल ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे टीम की मेजबानी करने जा रही है। इन देशों की मेजबानी करके अफगानिस्तान टीम अगले साल भारत में होने वाले वनडे विश्व कप के लिए खुद को तैयार करने जा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Ramandeep Singh

Related News

Recommended News