बड़ा फेलियर : DRS मशीन नहीं चली क्योंकि लाइट बंद थी,  कॉनवे नहीं ले पाए रिव्यू

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 09:01 PM (IST)

खेल डैस्क : मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। पहले बल्लेबाजी करने उतरी चेन्नई की टीम ने पावरप्ले में ही 5 विकेट गंवा लिए थे। लेकिन असली ड्रामा मैच की पहली ही ओवर में हुआ जब मुंबई के तेज गेंदबाज डैनियल सैम्स की गेंद पर चेन्नई के सलामी बल्लेबाज ड्वेन कॉनवे पगबाधा आऊट हो गए। हालांकि पहली नजर में गेंद लैग साइड की ओर जाती दिख रही थी। उम्मीद थी कि कॉनवे डीआरएस लेंगे लेकिन वह मैदानी अंपायर द्वारा आऊट देने के बाद ही पवेलियन लौट गए। फैंस हैरान थे तभी पता चलता कि स्टेडियम में पावरकट के कारण डीआरएस की मशीन चल नहीं रही थी। इसलिए शुरूआती कुछ ओवरों में डीआरएस लेने का कोई फायदा नहीं होना था। यह खबर जैसे ही सोशल मीडिया पर चली फैंस ने आईपीएल प्रबंधन की जमकर ट्रोलिंग की। देखें ट्विट्स- 


यही नहीं, पावरकट की समस्या कुछ मिनटों तक बरकरार रखी। क्योंकि चेन्नई ने पावरप्ले में ही 5 विकेट गंवा दी थी ऐसे में जो विकेट पगबाधा से आ रही थी उसपर सोशल मीडिया पर चर्चा छिड़ जाती थी।  रॉबिन उथप्पा के मामले में भी ऐसा ही हुआ। अपना पहला ओवर फेंक रहे मुंबई के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की एक गेंद रॉबिन के पैड पर जा लगी। मैदानी अंपायर ने रॉबिन को विकेट के सामने पाकर आऊट करार दे दिया। रॉबिन वहीं खड़े रहे। वह डीआरएस लेना चाहते थे लेकिन जब उन्हें पता चला कि अभी भी डीआरएस नहीं चल रहा तो वह निराश होकर पवेलियन की ओर लौट गए। 

बता दें कि मुंबई इंडियंस आईपीएल इतिहास की एकमात्र टीम है जिसने चार बार पावरप्ले के अंदर ही विरोधी टीम के 5 प्लेयरों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। राजस्थान रॉयल्स टीम दो बार ऐसा कर चुकी है। बाकी आठ टीमें सिर्फ 1-1 बार ही यह कारनामा करने में सफल रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jasmeet

Related News

Recommended News