तस्मानिया क्रिकेट भड़का क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर, कहा- पेन के साथ किया गया शर्मनाक बर्ताव

punjabkesari.in Tuesday, Nov 23, 2021 - 03:20 PM (IST)

होबार्ट : महिला साथी को अश्लील संदेश भेजने के मामले में कप्तान के पद से इस्तीफा देने वाले ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट क्रिकेटर टिम पेन के साथ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के बर्ताव पर क्रिकेट तस्मानिया ने नाराजगी जताई है और इस मामले में टिम पेन का समर्थन किया है। क्रिकेट तस्मानिया के अध्यक्ष एंड्रयू गैगिन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) की आलोचना करते हुए कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड का टिम पेन के प्रति व्यवहार शर्मनाक और 50 वर्षों में किसी भी ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के प्रति सबसे खराब है।

गैगिन ने तस्मानिया क्रिकेट बोर्ड की ओर से मंगलवार को जारी एक बयान में पेन द्वारा बीते वर्षों में भेजे गए कुछ अश्लील संदेश सार्वजानिक हो जाने से उनके टेस्ट कप्तानी से इस्तीफा देने के बाद उनके साथ बरते जा रहे व्यवहार पर विरोध जताया। उन्होंने कहा कि तस्मानिया क्रिकेट और आम लोगों में इस बात को लेकर काफी आक्रोश है। पेन पिछले चार सालों में एक उदाहरण के तौर पर उभरे हैं और केप टाउन के हादसे के बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की छवि को बेहतर करने में बड़ा योगदान दिया है। जब क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को उन्हें सहारा देना चाहिए था तब उनके साथ ऐसा व्यवहार हो रहा है। 

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के साथ ऐसा होना शर्मनाक है और बिल लॉरी के बाद 50 वर्षों में यह बर्ताव सबसे खराब है। हम यह पूछते हैं कि क्या दो वयस्क लोगों के बीच सह संवेदी और निजी बात के आधार पर उन्हें ऐसी स्थिति में डालना अनुचित था कि उन्हें इस्तीफा देना पड़े। इससे पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के पूर्व अध्यक्ष डेविड पीवर ने भी यह कहा था कि ऐसे हालात में पेन को क्रिकेट बोर्ड की सहानुभूति की जरूरत थी। 

उल्लेखनीय है कि पेन को बीते शुक्रवार को कई वर्षों पहले भेजे गए कुछ अश्लील संदेशों के सार्वजानिक हो जाने के बाद टेस्ट कप्तानी से इस्तीफा देना पड़ा था। इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अंतरिम अध्यक्ष रिचडर् फ्रायडेनस्टीन और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) निक हॉकले ने शनिवार को एक संयुक्त बयान में कहा था कि अगर वह 2018 में कार्यभार संभाल रहे होते तो वह पेन को कप्तानी से हटा देते। बावजूद इसके कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की इंटेग्रिटी यूनिट ने इस मामले में पेन को दोषी नहीं पाया था।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Raj chaurasiya

Related News

Recommended News