"मैंने 350 रुपए खर्च किए थे", भारत की हार पर पिच पर फूटा दर्शकों का गुस्सा, आए ऐसे रिएक्शन

punjabkesari.in Friday, Mar 03, 2023 - 04:34 PM (IST)

इंदौर: बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी स्पर्धा के तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन शुक्रवार को मेजबान भारत की ऑस्ट्रेलिया से नौ विकेट से करारी हार से नाखुश भारतीय दर्शकों ने इंदौर के होलकर स्टेडियम के पिच पर जमकर भड़ास निकाली। गौरतलब है कि होलकर स्टेडियम के मैदान को "बल्लेबाजों का स्वर्ग" कहा जाता है, लेकिन इस टेस्ट मैच में इसके पिच पर फिरकी गेंदबाजों ने इस तरह धड़ाधड़ विकेट गिराए कि यह "बल्लेबाजों की कब्रगाह" साबित हुआ। 

गहरी निराशा के साथ स्टेडियम से बाहर निकले दर्शक केके राय ने कहा,"मैच का नतीजा टेस्ट क्रिकेट के लिए कतई अच्छा नहीं है जो खेल का शास्त्रीय प्रारूप है। अगर ऐसे ही नतीजे आते रहे, तो एक दिन दर्शकों के बीच टेस्ट क्रिकेट की अहमियत खत्म हो जाएगी।" 

उन्होंने कहा,"भारत में इन दिनों टेस्ट मैच में केवल फिरकी गेंदबाजों को मदद करने वाले पिच बनाए जा रहे हैं। यह सही नहीं है।" 

PunjabKesari
भारत की करारी हार के बाद स्टेडियम से बाहर निकले दर्शक हरिओम आंजना ने मैच का टिकट फाड़कर विरोध जताया। उन्होंने कहा,"मैं एक विद्यार्थी हूं और मैंने 350 रुपए खर्च कर यह टिकट लिया था। मैंने सोचा था कि भारतीय टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी, लेकिन मेरी यह उम्मीद पूरी नहीं हो सकी।" 

बुजुर्ग दर्शक सतीश बब्बर ने कहा,"भारत में खेले जा रहे टेस्ट मैचों में केवल फिरकी गेंदबाजों को मदद करने वाली पिच बनाई जा रही है, जबकि टी20 क्रिकेट शुरू होने के बाद ज्यादातर दर्शक टेस्ट मैचों में भी चौके-छक्कों वाली बल्लेबाजी देखने की हसरत लिए स्टेडियम पहुंचते हैं। आयोजकों को यह बात समझनी चाहिए।" 

लकर स्टेडियम से बाहर निकलीं शिवानी जैन ने कहा,"टेस्ट मैच के लिए ऐसा पिच नहीं बनाया जाना चाहिए जिससे केवल फिरकी गेंदबाजों को फायदा मिले। बीसीसीआई को इस मामले में उचित कदम उठाने चाहिए।" कई दर्शकों ने टेस्ट मैच के पूरे पांच दिन नहीं चल पाने पर यह कहते हुए निराशा का इजहार किया कि इससे उनके टिकट की रकम वसूल नहीं हो सकी। 

दर्शकों में शामिल सौरभ ने टेस्ट मैच के तीसरे ही दिन खत्म होने के लिए पिच को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा,"होलकर स्टेडियम के पुराने इतिहास को देखते हुए हमें उम्मीद थी कि इसका पिच बल्लेबाजों के लिए वरदान साबित होगा, लेकिन इसने केवल फिरकी गेंदबाजों की मदद की जिससे मैच तीसरे ही दिन खत्म हो गया।" 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Ramandeep Singh

Related News

Recommended News