लिचफील्ड को मंधाना से ली गई सीख से भारत दौरे पर फायदा मिलने की उम्मीद

punjabkesari.in Wednesday, Dec 07, 2022 - 03:52 PM (IST)

मुंबई : ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर फोबे लिचफील्ड को उम्मीद है कि उन्होंने महिला बिग बैश लीग (डब्ल्यूबीबीएल) के दौरान बाएं हाथ की बल्लेबाज स्मृति मंधाना के साथ जो समय बिताया था, उससे उन्हें भारत के अपने पहले दौरे में मदद मिलेगी। 

लिचफील्ड (19 वर्ष) और मंधाना दोनों 2021-22 डब्ल्यूबीबीएल सत्र में सिडनी थंडर्स के लिए खेली थीं और महिला क्रिकेट की इस शानदार खिलाड़ियों में शुमार इस भारतीय से आस्ट्रेलिया की इस ‘अनकैप्ड' खिलाड़ी को काफी कुछ सीखने को मिला। लिचफील्ड भारत के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में अपना पदार्पण करने को तैयार हैं जो मुंबई में नौ दिसंबर से शुरू हो रही है। 

लिचफील्ड ने कहा, ‘स्मृति के साथ खेलना शानदार था। वह बेहतरीन खिलाड़ी है। बाएं हाथ की खिलाड़ी के तौर पर मुझे उनसे काफी कुछ सीखने को मिला। उन्होंने टीम के साथ पारियों में मेरी काफी मदद की। मैंने निश्चित रूप से उनके साथ वहां खेलकर काफी कुछ सीखा। वह मेरी पसंदीदा बायें हाथ की खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्हें खेलते देखना मुझे अच्छा लगता है।' 

मंधाना ने सत्र के अंत में लिचफील्ड को अपना बल्ला भी उपहार के तौर पर दिया था। भारतीय खिलाड़ी ने इस डब्ल्यूबीबीएल सत्र से हटने का फैसला किया है। लिचफील्ड ने कहा, ‘उन्होंने (मंधाना ने) श्रृंखला के अंत में मुझे अपना एक बल्ला भी दिया। मैंने इसका इस्तेमाल किया और यह बेहतरीन था। उनके साथ बल्लेबाजी को लेकर बातें हुईं। पारी को कैसे आगे बढ़ाया जाए, उन्होंने इसके बारे में सलाह देकर मेरी मदद की।' लिस्ट ए क्रिकेट और टी20 में अच्छा करने के बाद लिचफील्ड से काफी उम्मीदें लगी हुई हैं और वह इन उम्मीदों का भार भी महसूस करती हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Related News

Recommended News