''वे बीमार हैं, अगर ठीक होते तो हमें बहुत पीटते'', इंग्लैंड से हुई धुनाई पर बोले शोएब अख्तर

punjabkesari.in Friday, Dec 02, 2022 - 05:50 PM (IST)

स्पोर्ट्स डेस्क : इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने पाकिस्तान को पहले टेस्ट के दाैरान जमकर धोया है। हालांकि, पहले खबर आ रही थी कि मैच स्थगित हो सकता है क्योंकि कई खिलाड़ी वायरस का शिकार थे, लेकिन दिन का खेल शुरू होने के दो घंटे पहले इंग्लैंड ने पुष्टि की कि वह 11 खिलाड़ियों को मैदान में उतारने की स्थिति में हैं और मैच जारी रहेगा। फिर इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और उनके बल्लेबाजों ने ताबड़तोड़ शुरूआत की।  सलामी बल्लेबाज ज़क क्रॉली (122) और बेन डकेट (107) ने पहले सत्र में 174 रन बनाए, जो एक नया रिकॉर्ड भी है।

इस तरह इंग्लैंड ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक 75 ओवरों में 4 विकेट खोकर 506 रन बना दिए, जो टेस्ट इतिहास में पहले दिन का सबसे बड़ा स्कोर हुआ। इसके बाद पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर बयान जारी करते हुए ना सिर्फ पाकिस्तानी टीम की क्लास लगाई बल्कि यह भी कहा कि इंग्लिश टीम बीमार थी, अगर वो ठीक होते तो खूब पिटाई हुई होती। अख्तर ने कहा, ''शुक्र है अभी इंग्लैंड टीम की तबीयत खराब थी, कल खबर आई थी कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों की तबियत ठीक नहीं है। वो ठीक भी नहीं हैं तब भी 500 रन मार दिए, अगर ठीक होते तो बहुत बुरा हाल करते। वे बीमार हैं। अगर वे फिट और ठीक होते तो हमें बहुत पीटते।"

PunjabKesari

इंग्लैंड नहीं रुका
इसके अलावा अख्तर ने पूर्व महान इंग्लैंड के टेस्ट कोच ब्रेंडन मैकुलम की भी प्रशंसा की। अख्तर ने कहा, "इनके जो कोच हैं ब्रेंडन मैकुलम हैं वो टेस्ट में रुक रुक के खेलना पसंद नहीं करते, वो भरो करते हैं कि रन अप बाॅल खेला जाए।  वो जब से आया है टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड ने मारना शुरू किया है। इंग्लैंड नहीं रुका। बैटिंग लाइन अप उनके पास बहुत लंबी है। वो कहते हैं कि टेस्ट मैच भी रन ए बॉल खेलो भाई।  इंग्लैंड ने उनके आने के बाद से आक्रामक क्रिकेट खेली है। वे रुकते नहीं हैं। उनके बल्लेबाजी क्रम में गहराई है। इसलिए, मुझे लगता है, पाकिस्तान को भी सोच बदलने की जरूरत है।''

पाकिस्तानी गेंदबाजों की धुनाई पर क्रिकेट जगत में खूब चर्चा हुई जबकि सोशल मीडिया पर उनका मजाक भी बना। वहीं अख्तर ने आंकलन किया कि पाकिस्तानी गेंदबाजों ने टेस्ट में कम गेंदबाजी की जिसका खामियाजा अब भुगतना पड़ा। उन्होंने कहा, "ये टी20 के तेज गेंदबाज हैं। इनको टेस्ट तेज गेंदबाज बनने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ेगी। हमारी टीम है, अभी बच्चों की टीम है। काफी मासूम है। काफी लंबे समय बाद टेस्ट खेल रहे हैं लेकिन यह एक युवा टीम है पर टेस्ट क्रिकेट वास्तव में बहुत ही दर्दनाक है। पाकिस्तान को यह आकलन करने की आवश्यकता है कि वे कहां खड़े हैं क्योंकि यह आसान नहीं है। पिटाई होते देखना अच्छा नहीं था। बच्चों को पीटा जा रहा है।"


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Rahul Singh

Related News

Recommended News