टेस्ट और टी20 क्रिकेट साथ-साथ चल सकते हैं : स्ट्रॉस

punjabkesari.in Tuesday, Aug 16, 2022 - 12:45 PM (IST)

लंदन : दुनिया भर में टी-20 क्रिकेट की फ्रेंचाइजी लीग के बढ़ते चलन के बावजूद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट और टी20 सहजता से एक दूसरे के साथ आगे बढ़ सकते हैं। 

वर्तमान में इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की क्रिकेट समिति के चेयरमैन स्ट्रॉस ने इस नतीजे पर पहुंचने से पहले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए ढाई महीने की ‘विंडो' (टूर्नामेंट के लिये रखा गया समय) पर भी गौर किया। स्ट्रॉस ने कहा, ‘एक बात जो कि हम दूसरे देशों के बारे में जानते हैं कि वहां टेस्ट क्रिकेट कमाई नहीं करता जैसे कि यहां करता है।' उन्होंने कहा, ‘टी-20 वह प्रारूप है जो नए लोगों को इस खेल से जोड़ता है। मेरा तब भी मानना है कि यह दोनों प्रारूप टेस्ट और टी-20 क्रिकेट सहजता से एक साथ चल सकते हैं।' 

स्ट्रॉस ने कहा, ‘लेकिन चुनौती उपयुक्त कार्यक्रम तैयार करने की है ताकि खिलाड़ी इन दोनों प्रारूपों खेल सके। यह वास्तव में जटिल काम है।' हाल में न्यूजीलैंड के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने केंद्रीय अनुबंध छोड़ दिया था ताकि वहां फ्रेंचाइजी क्रिकेट को अधिक समय दे सकें। स्ट्रॉस ने कहा, ‘यह निश्चित रूप से लगता है कि इस समय सही है, बदलाव की दर बढ़ रही है। और सच्चाई यह है कि हम में से कोई नहीं जानता कि आगे क्या होने वाला है ताकि आप भविष्य के लिए योजना बना सकें।' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Related News

Recommended News