''वार्न का आर्शीवाद हमारे साथ'' IPL Qualifier से पहले राजस्थान के दिग्गज की प्रतिक्रिया

punjabkesari.in Monday, May 23, 2022 - 06:44 PM (IST)

कोलकाता : राजस्थान रॉयल्स के स्टार बल्लेबाज जोस बटलर पिछले कुछ मुकाबलों में अपने प्रदर्शन से ‘निराश' हैं लेकिन उन्होंने कहा कि वह प्लेऑफ में जगह बनाने से पहले टूर्नामेंट के शुरुआती चरण में अपनी बड़ी पारियों से आत्मविश्वास हासिल करेंगे। इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बटलर ने मौजूदा सत्र में तीन शतक और तीन अर्धशतक की मदद से 147 के स्ट्राइक रेट के साथ 629 रन बनाए हैं लेकिन पिछले तीन मैच में वह दो, दो और सात रन की पारियों के साथ केवल 11 रन बना पाए हैं। 

बटलर ने ईडन गार्डन्स में टाइटंस के खिलाफ होने वाले पहले क्वालीफायर से पूर्व कहा कि बेशक मैं आईपीएल में अपनी फॉर्म को लेकर रोमांचित था लेकिन पिछले कुछ मैच के प्रदर्शन से निराश हूं। टूर्नामेंट के पहले हाफ में मैं संभवत: अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट में से कुछ खेल रहा था और प्ले आफ से पहले उस प्रदर्शन से आत्मविश्वास हासिल कर रहा हूं। मौजूदा सत्र में गेंद और बल्ले दोनों से अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि ‘रिटायर्ड आउट' जैसे कुछ फैसले टीम को प्रतिस्पर्धी रूप से फायदा पहुंचा सकते हैं बशर्ते सही तरह से लिए जाएं। रिटायर्ड आउट में बल्लेबाज अपनी मर्जी से पवेलियन लौट जाता है और उसे आउट माना जाता है। 

मौजूदा सत्र में रॉयल्स के सबसे किफायती गेंदबाज अश्विन ने कहा कि यह समझना महत्वपूर्ण है कि यह फैसला कैसे अहम लम्हों पर आपको फायदे की स्थिति में ला सकता है। मुझे लगता है कि यह (रिटायर्ड आउट) भविष्य में टी20 क्रिकेट का हिस्सा होगा और मुझे लगता है कि यह बरकरार रहेगा। लोग समझेंगे कि यह जोखिम भरा है क्योंकि बल्लेबाज रिटायर्ड आउट होने के बाद दोबारा खेलने नहीं आ सकता और अगर चीजें आपके पक्ष में नहीं रहीं तो आपको इस पर सफाई देनी पड़ सकती है। लेकिन अगर इसे सही तरह से लागू किया गया तो यह आपके लिए फायदे वाली स्थिति हो सकती है। अश्विन ने मौजूदा सत्र में 183 रन बनाने के अलावा 11 विकेट भी चटकाए हैं और इस दौरान उनकी इकोनॉमी रेट 7.14 रही है। 

युजवेंद्र चहल ने अपनी सफलता का श्रेय टीम के एकजुट होकर खेलने को दिया और कहा कि पहले सत्र में टीम की अगुआई करने वाले दिवंगत शेन वार्न के कारण रॉयल्स के लिए खेलना विशेष है। मौजूदा टूर्नामेंट के सबसे सफल गेंदबाज चहल ने कहा कि मुझे पता है कि रॉयल्स के साथ यह मेरा पहला सत्र है लेकिन ऐसा लगता है कि मैं वर्षों से टीम के साथ खेल रहा हूं। यहां मैं मानसिक रूप से सहज हूं और मुझे लगता है कि इसका श्रेय यहां टीम के साथ जुड़े लोगों को जाता है। दूसरी तरफ टीम के साथ खेलना मेरे लिए विशेष है क्योंकि वार्न रॉयल्स के लिए खेले और मुझे लगता है कि उनका आशीर्वाद मेरे साथ है। मुझे लगता है कि वह मुझे देख रहे हैं। 

दूसरी बार पूर्ण सत्र के लिए फ्रेंचाइजी की अगुआई कर रहे कप्तान संजू सैमसन ने कहा कि वह कभी सीखना नहीं छोड़ेंगे और संवाद उनकी कप्तानी के अहम बिंदुओं में से एक है। मुझे लगता है कि बल्लेबाज और कप्तान के रूप में मैंने विकास किया है और सीखना जारी रखा है। मैं इस टीम की अगुआई करने की जिम्मेदारी का लुत्फ उठा रहा हूं विशेषकर टीम में इतने सारे अनुभवी खिलाड़ियों की मौजूदगी में। मुझे लगता है कि जब आप एक टीम की अगुआई कर रहे होते हैं तो यह बेहद महत्वपूर्ण है कि आपका नजरिया इस तरह हो कि आप दबाव की स्थिति में लोगों को अपने पास आकर बात करने की स्वीकृति दें और अपने विचार रखने दें। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Raj chaurasiya

Related News

Recommended News