डिकॉक की टीम वापसी पर कप्तान बावुमा ने दिया यह बयान

punjabkesari.in Tuesday, Jan 18, 2022 - 09:51 PM (IST)

पार्ल : दक्षिण अफ्रीका के सीमित ओवरों के कप्तान तेम्बा बावुमा ने मंगलवार को कहा कि टेस्ट क्रिकेट से अचानक संन्यास लेने वाले क्विंटन डिकॉक भारत के खिलाफ तीन मैचों की वनडे श्रृंखला में खुद को साबित करना चाहेंगे। दोनों देशों के बीच इस श्रृंखला का आगाज बुधवार से होगा। 

बावुमा ने कहा कि क्विनी (डिकॉक) को फिर से (टीम में) देखना अच्छा है। जाहिर तौर पर हमें टेस्ट टीम में उनकी कमी खलती है। उन्होंने फैसला कर लिया है और यह एक ऐसा फैसला है जिसका हम सम्मान करते हैं। वह खुद को साबित करना चाहेंगे। बाएं हाथ के आक्रामक बल्लेबाज-विकेटकीपर ने भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के पहले मैच के बाद खेल के सबसे लंबे प्रारूप से संन्यास की घोषणा की थी। भारत के खिलाफ वनडे श्रृंखला पर बावुमा ने कहा कि वे एक मजबूत टीम के खिलाफ खेलेंगे लेकिन चुनौती के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि सीमित ओवरों के प्रारूप में भारत एक मजबूत टीम है। हम उनकी टीम का वैसे ही सम्मान करते हैं जैसे अन्य टीमों का करते हैं। टेस्ट श्रृंखला को देखते हुए हम जानते हैं कि यह कठिन मुकाबला होने वाला है। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मार्को जेनसन को वनडे टीम में शामिल किया गया है और वह अंतिम एकादश में जगह बनाने की दौड़ में हैं। मार्को को वनडे टीम में शामिल किया गया है। दुनिया ने देखा है कि उसके पास क्रिकेट की क्या क्षमता है। उसे सीमित ओवर की टीम में लाने के लिए ज्यादा दिमाग लगाने की जरूरत नहीं पड़ी। वह अंतिम एकादश में जगह पाने का मजबूत दावेदार है।

टीम की गेंदबाजी संयोजन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि गेंदबाजी संयोजन के बारे में हमें पार्ल की परिस्थितियों पर विचार करना होगा। यह ऊंचाई वाले क्षेत्रों के विकेट (पिच) से काफी अलग है। यह थोड़ा धीमा है। लुंगी (एनगिडी), जेनसन जैसे लोग मजबूत दावेदार हैं। हमें देखना होगा कि कौन से खिलाड़ी परिस्थितियों का फायदा उठा सकते हैं। पार्ल धीमे गेंदबाजों के लिए मददगार होता है। (तबरेज) शम्सी, केशव (महाराज) सभी का दावा मजबूत होगा। टीम के हर खिलाड़ी पर विचार होगा।

उन्होंने भारतीय स्पिनरों से निपटने के बारे में कहा कि दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज पिछले कुछ समय से स्पिन खेलने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी तैयारी पिछले एक साल से हो रही है। पिछले साल श्रीलंका में श्रृंखला के दौरान लोगों ने सकारात्मक परिणाम दिखाया था। आपने टी20 विश्व कप में भी देखा होगा। जब आप भारत के खिलाफ खेलते हैं तो स्पिन गेंदबाजी उनकी ताकत है। हम इस पर कम करने के लिए जितना हो सके तैयारी करने की कोशिश करेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Raj chaurasiya

Related News

Recommended News