फीफा विश्व कप : सेनेगल को 3-0 से हराकर इंग्लैंड क्वार्टर फाइनल में पहुंचा

punjabkesari.in Monday, Dec 05, 2022 - 11:07 AM (IST)

अल खोर (कतर) : इंग्लैंड ने कप्तान हैरी केन के इस साल फुटबॉल विश्व कप में पहले गोल की बदौलत रविवार को यहां सेनेगल को 3-0 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई जहां उसका सामना फ्रांस से होगा। केन ने इंग्लैंड की ओर से 52वां गोल दागा और वह देश की ओर से सर्वाधिक गोल के वेन रूनी के रिकॉर्ड से सिर्फ एक गोल पीछे हैं। उन्होंने 11 गोल के साथ बड़े टूर्नामेंटों में अपने देश के शीर्ष स्कोरर के रूप में गैरी लिनेकर को भी पीछे छोड़ दिया। 

अल बायत स्टेडियम में जोर्डन हेंडरसन और बुकायो साका ने भी इंग्लैंड की ओर से गोल दागे। इन गोल में जूड बेलिंगहैम और फिल फोडेन की भी अहम भूमिका रही। रूस में पिछले विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली इंग्लैंड का सामना अब शनिवार को अल बायत स्टेडियम में ही गत चैम्पियन फ्रांस से होगा। केन ने कहा, ‘हमने मुकाबले का आनंद लिया लेकिन निश्चित रूप से हमारा ध्यान अगले मुकाबले पर है। यह काफी कड़ा मुकाबला होने वाला है। वे गत चैम्पियन हैं लेकिन यह एक अच्छा मुकाबला होगा।' 

इंग्लैंड और फ्रांस के बीच मुकाबल में टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर काइलियान एमबापे और बेलिंगहैम जैसे उत्कृष्ट खिलाड़ियों को खेलते हुए देखने का मौका मिलेगा। एमबापे ने पोलैंड के खिलाफ प्री क्वार्टर फाइनल में फ्रांस की 3-1 की जीत में दो गोल सहित इस साल विश्व में कुल पांच गोल किए हैं। बेलिंगहैम ने मौजूदा विश्व कप में एकमात्र गोल ईरान के खिलाफ शुरुआती मैच में 6-2 की जीत के दौरान किया था लेकिन उन्होंने बाकी खिलाड़ियों के गोल में भी महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं। बेलिंगहैम ने 38वें मिनट में हेंडरसन को क्रॉस दिया जिन्होंने इसे गोल में पहुंचा दिया। 

इससे पहले सेनेगल ने गोल करने के अधिक बेहतर मौके बनाए थे लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। इस्माइला सार का करीब से मारा शॉट गोल पोस्ट के ऊपर से बाहर निकल गया जबकि इंग्लैंड के गोलकीपर जोर्डन पिकफोर्ड ने बोलाये दीया के शानदार प्रयास को नाकाम किया। हेंडरसन के गोल में मदद करने के बाद पहले हाफ के इंजरी टाइम में बेलिंगहैम ने इंग्लैंड के हाफ से गेंद को अपने कब्जे में लेकर शानदार मूव बनाया। वह गेंद को सेनेगल के हाफ में काफी आगे ले गए और फिर इसे फोडेन को पहुंचाया जिन्होंने इसे केन की ओर बढ़ाया दिया और इंग्लैंड के कप्तान ने टीम की बढ़त दोगुनी कर दी। विश्व कप 1966 के चैंपियन इंग्लैंड की ओर से इसके बाद साका ने 57वें मिनट में फोडेन के क्रॉस पर एक और गोल दागकर टीम की 3-0 से जीत सुनिश्चित की।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Related News

Recommended News