करोड़ों के लालच में आया इंग्लैंड का धुरंधर, देश के लिए खेलने से किया मना

punjabkesari.in Thursday, May 25, 2023 - 06:19 PM (IST)

स्पोर्ट्स डैस्क : दुनियाभर में कई टी20 लीग के आने के कारण अब कई खिलाड़ी पैसों की आड़ में आकर अपने देश के लिए खेलना पसंद नहीं कर रहे हैं। हाल ही में एक खबर आई थी कि इंग्लैंड के 6 ऐसे खिलाड़ी हैं जो सभी देशों में होने वाली टी20 लीग खेलने के लिए अपनी राष्ट्रीय टीम का साथ छोड़ देंगे। फिलहाल, यह बात अब सच होती दिख रही है क्योंकि इंग्लैंड के धुरंधर जेसन रॉय ने करोड़ों के लालच में आकर राष्ट्रीय टीम के लिए नहीं खेलने का फैसला किया है। 

खबर आई है कि जेसन रॉय इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से अपना नाम वापस लेने वाले हैं और इस साल अमेरिका में आयोजित होने वाली मेजर लीग क्रिकेट (MLC) में लोस एंजेलेस नाइट राइडर्स (LA Knight Riders) की तरफ से दो साल की डील साइन करने वाले हैं। इसके लिए उनके साथ 3.68 करोड़ की डील हुई है। ईसीबी ने पहले ही साफ कर दिया था कि आगामी मेजर लीग क्रिकेट में खेलने के लिए इंग्लैंड के अनुबंधित खिलाड़ियों को नॉन ऑब्जेकशन सर्टिफिकेट प्रदान नहीं करेगी। इसलिए खिलाड़ियों ने मेजर लीग में खेलने के लिए इन कॉन्ट्रैक्ट से किनारा करने का फैसला लेने पर विचार किया है। 

इंग्लैंड को लग सकता है झटका

अगर जेसन अपना नाम कॉन्ट्रैक्ट से वापस लेते हैं तो फिर ये इंग्लैंड के लिए बड़ा झटका होने वाला है क्योंकि आगामी विश्व कप में उनकी बेहद कमी खलने वाली है। जेसन रॉय ने साल 2014 में टी20 में इंग्लैंड के लिए अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था। इसके एक साल बाद ही उन्हें वनडे टीम में जगह गई थी। फिर साल 2019 में टेस्ट में डेब्यू कर इंग्लैंड की ओर से तीनों फॉर्मेट खेल गए थे। 2019 के वर्ल्ड में इंग्लैंड को चैंपियन बनाने में जेसन रॉय ने अहम भूमिका निभाई थी। वैसे हम आपको बता दें कि 32 साल के जेसन रॉय मूल रूप से दक्षिण अफ्रीकी मूल के क्रिकेटर हैं। इंग्लैंड के केविन पीटरसन भी इंग्लैंड के नहीं बल्कि मूल रूप से दक्षिण अफ्रीका के ही है। 

सिर्फ जेसन रॉय ही नहीं, बल्कि राइसी टॉपले भी इस लिस्ट में शामिल है और वह भी अपने आप को इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के कॉन्ट्रैक्ट से खुद को बाहर रख सकते है। टॉपले के फैसला उनकी फिटनेस पर डिपेंड करेगा क्योंकि पिछले महीने ही उन्होंने अपने कंधे की सर्जरी करवाई है। बता दें कि मेजर लीग क्रिकेट का आयोजन इस साल 13 से 30 जुलाई तक किया जाएगा, जिसमें 6 टीमें खिताब के लिए भिड़ेंगी। इसमें इंडिया और ऑस्ट्रेलिया की फ्रैंचाइजी शामिल है। 6 में से 4 टीमें आईपीएल फ्रैंचाइजियों की है और दो टीमें क्रिकेट विक्टोरिया और क्रिकेट न्यू साउथ वेल्स की है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Rahul Singh

Related News

Recommended News