छह और राज्यों में बनेगा खेलो इंडिया राज्य उत्कृष्टता केंद्र

9/16/2020 12:46:20 PM

नयी दिल्ली : युवा प्रतिभाओं की पहचान करने के मकसद से खेल मंत्रालय छह अन्य राज्यों में खेलो इंडिया राज्य उत्कृष्टता केंद्र (केआईएससीई) स्थापित करने के लिए तैयार है। केआईएससीई का दूसरे चरण में असम, दादरा एवं नगर हवेली तथा दमन एवं दीव, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, मेघालय और सिक्किम में विस्तार होगा।

इस साल की शुरुआत में, मंत्रालय ने पहले चरण में कर्नाटक, ओडिशा, केरल, तेलंगाना और उत्तर पूर्व के अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम और नागालैंड सहित आठ केंद्रों की पहचान की थी। यहां के मौजूदा केंद्रों का उन्नयन खेलो इंडिया राज्य उत्कृष्टता केंद्र (केआईएससीई) के रूप में किया जाएगा।

मंत्रालय से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक- प्रत्येक राज्य और केंद्र शासित प्रदेश द्वारा खेल सुविधाओं का चयन किया गया, जो उनके या उनकी एजेंसियों या किसी भी योग्य एजेंसियों के साथ उपलब्ध सर्वश्रेष्ठ खेल आधारभूत संरचना है और उसे विश्व स्तरीय खेल सुविधाओं में विकसित किया जा सकता है।’’
विज्ञप्ति के मुताबिक मंत्रालय खेल उपकरण, विशेषज्ञ कोच और उच्च प्रदर्शन प्रबंधकों की आवश्यकता के अंतर को कम करेगा।

उन्होंने कहा- इसमें हर केन्द्र में अधिकतम तीन ओलंपिक खेलों का समर्थन किया जाएगा, हालांकि खेल विज्ञान और संबद्ध क्षेत्रों में समर्थन को अन्य खेल विषयों में बढ़ाया जा सकता है। 


दूसरे चरण के लिए चुने गये केद्रों में असम की राज्य खेल अकादमी, सरजूसाई खेल परिसर, गुवाहाटी ; न्यू स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, सिलवासा (दादरा एवं नगर हवेली तथा दमन एवं दीव); श्री शिव छत्रपति शिवाजी खेल परिसर, बालेवाड़ी, पुणे (महाराष्ट्र); एमपी अकादमी, भोपाल (मध्य प्रदेश); जेएनएस परिसर शिलांग (मेघालय) और पालजोर स्टेडियम, गंगटोक (सिक्किम) शामिल है।


PTI News Agency

Related News