इस बल्लेबाज में युवराज जैसी काबिलियत, एक ओवर में लगा सकता है छह छक्के: डेल स्टेन

punjabkesari.in Friday, Oct 07, 2022 - 12:52 PM (IST)

स्पोर्टस डेस्क: गुरुवार को साउथ-अफ्रीका के खिलाफ पहला वनडे भारत महज 9 रन से हार गया। हालांकि भारतीय युवा बल्लेबाज संजू सैमसन ने भारत को जिताने की पूरजोर कोशिश की। सैमसन ने 63 गेंदों में नाबाद 86 रन की पारी खेली। आखिरी की ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर वह भारत को लगभग जीत की दहलीज पर ले गए, लेकिन 39 वें ओवर में स्ट्राइक न मिलने से सैमसन को आखिरी के एक ओवर में 30 रन बनाने थे। सैमसन ने आखिरी ओवर में तूफानी बल्लेबाजी करते हुए एक वाइड समे्त कुल 21 रन जोड़े। साउथ-अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने संजू सैमसन की इस शानदार पारी के बारे में बात करते हुए सैमसन की तुलना युवराज सिंह से की है।

लखनऊ में रोमांचक मैच पर प्रतिक्रिया देते हुए, दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने कहा- "मैं नर्वस था जब रबाडा ने 39वें ओवर की आखिरी गेंद नो बॉल फेंकी और नो बॉल के कारण एक्सट्रा गैंद में रबाडा को चौका लगा। जिससे आखिरी के ओवर में डिफेंड करने के लिए 30 रन रह गए। जैसे ही कगिसो रबाडा ने अपने ओवर की आखिरी गेंद पर वह नो-बॉल फेंकी, मैं ऐसा था, 'कृपया ऐसा न होने दें'। क्योंकि आप संजू जैसे किसी व्यक्ति को कभी नहीं जान सकते। मैंने उसे आईपीएल में देखा, गेंदबाजों को खेलने और बाउंड्री मारने की उनकी क्षमता, विशेष रूप से खेल के अंतिम 2 ओवरों में, अविश्वसनीय है और इस 27 वर्षीय बल्लेबाज में युवराज सिंह जैसे एक ओवर में छह छक्के लगाने की क्षमता है।"

स्टेन ने आगे कहा-“शम्सी आखिरी ओवर करने जा रहे थे और सैमसन जानते थे कि शम्सी का गेंदबाजी में आज एक कठिन दिन था। जब रबाडा 39वें ने नो बॉल फेंकी तो मैं नर्वस हो गया। क्योंकि संजू एक तरह का लड़का है जिसमें युवी की क्षमता है, जो उन छह छक्कों को मार सकता है और जब उसे 30+ की जरूरत होती है"

गुरुवार को बारिश के चलते निर्धारित 40 ओवरों के मैच में साउथ-अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को 250 रनों का लक्षय दिया था। भारत ने चेज करते हुए अपने शुरूआती 4 बल्लेबाजों की विकेट जल्दी खो दी। भारत की पारी को संजू सैमसन (86 *) और श्रेयस अय्यर (50) के महत्वपूर्ण योगदान ने संभाला, लेकिन वह भारत को जीत की ओर नहीं ले जा सके। भारत को मैच के अंतिम ओवर में जीत के लिए 30 रन चाहिए थे और सैमसन ने तबरेज शम्सी के ओवर में 20 रनों की पारी खेली और एक गेंद वाइड हो गई।

मैच के 39वें ओवर में, सैमसन को स्ट्राइक नहीं मिली क्योंकि आवेश खान ने पांच गेंदों का सामना किया, ओवर की तीसरी गेंद पर डबल लेने के दोनों के फैसले की आलोचना पूर्व क्रिकेटरों और प्रशंसकों ने समान रूप से की। 39वें ओवर में कागिसो रबाडा ने अवेश को आउट करने के बाद एक नो बॉल फेंकी और रवि बिश्नोई के बल्ले के एक मोटा निचले किनारे से ओवर की समाप्ती पर एक चौका लगा। अंतिम ओवर में 30 रन चाहिए थे, स्पिनर शम्सी को सैमसन ने पहले एक चौका लगाया, उसके बाद एक छक्का और दो चौके लगाए। हालाँकि, 27 वर्षीय विकेटकीपर-बल्लेबाज चौथी गेंद पर बाउंड्री नहीं लगा सके, जिससे साउथ-अफ्रीका की जीत की पुष्टि हुई।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jasmeet

Related News

Recommended News