अंडर 19 विश्व कप : कप्तान धुल समेत 5 खिलाड़ी कोविड-19 पॉजिटिव, युगांडा खिलाफ नहीं खेलेंगे

punjabkesari.in Friday, Jan 21, 2022 - 07:43 PM (IST)

नई दिल्ली : कप्तान यश धुल सहित पांच भारतीय खिलाड़ी कोविड-19 की नवीनतम आरटी-पीसीआर जांच में पॉजिटिव आने के बाद अंडर-19 विश्व कप में युगांडा के खिलाफ टीम के अंतिम लीग मैच से बाहर हो गए है। आईसीसी के एक सूत्र ने बताया कि बुधवार को आयरलैंड के खिलाफ मैच से पहले पृथकवास में गए 6 खिलाडिय़ों में से केवल हरफनमौला वासु वत्स का नतीजा नेगेटिव आया है। भारतीय टीम पहले ही क्वार्टर फाइनल का टिकट कटा चुकी है। भारत को शनिवार को ग्रुप बी के अंतिम मैच में युगांडा से भिडऩा है।

Sports

रैपिड एंटीजन टेस्ट (आरएटी) जांच में पॉजिटिव आने वाले कप्तान धुल, अराध्य यादव और शेख रशीद ने आरटी-पीसीआर का परीक्षण भी पॉजिटिव रहा। आरएटी में नेगेटिव आने वाले मानव पारख का भी आरटी-पीसीआर जांच का नतीजा पॉजिटिव आया है। आईसीसी के एक सूत्र ने कहा कि इस जांच नतीजे में जो बात सकारात्मक रही वह यह है कि आयरलैंड के खिलाफ मैदान में उतरने वाले सभी 11 खिलाड़ी जांच में नेगेटिव आए है। संक्रमित होने वाले खिलाडिय़ों में धुल में इस बीमारी का लक्षण सबसे ज्यादा हैं। भारत अगर अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहता है तो उसका क्वार्टर फाइनल मैच 29 जनवरी को होगा और तब तक धुल के अलावा सभी को ‘ठीक होना चाहिए’।

Under 19 World Cup 2022, 5 stars of Team India, Team india, ICC Under 19 World Cup, cricket news in hindi, sports news, अंडर 19 विश्व कप

भारत ने अपने शिविर में कोरोना वायरस के प्रकोप से मुश्किल परिस्थितियों में मैदान पर टीम उतारने के बाद आयरलैंड के खिलाफ बड़ी जीत के साथ नॉकआऊट में जगह पक्की की। सभी संक्रमित खिलाडिय़ों को टूर्नामेंट प्रोटोकॉल के अनुसार 5 दिनों तक पृथकवास में रहना होता है। इस अवधि के अंदर जांच में 3 बार नेगेटिव आने के बाद ही वह भी टीम में शामिल हो सकता है। इस बात पर हालांकि संशय है कि बायो-बबल (जैव-सुरक्षित माहौल) में रहने के बाद भी भारतीय खिलाड़ी वायरस के चपेट में कैसे आ गए। यूएई में एशिया कप जीतने के बाद भारतीय टीम एम्सटर्डम होते हुए वेस्टइंडीज के लिए रवाना हुई थी।

Under 19 Cricket World Cup, Yash Dhull, Covid 19 positive, cricket news in hindi, sports news, अंडर 19 विश्व कप

गुयाना पहुंचने के बाद भारतीय टीम को पांच दिनों तक पृथकवास रहना पड़ा था और इसी दौरान टीम के एक सहयोगी सदस्य का जांच नतीजा पॉजिटिव आया था। समझा जाता है कि यह सदस्य यात्रा के दौरान इस वायरस के चपेट में आया जिससे दूसरे खिलाड़ी संक्रमित हुए। आरटी-पीसीआर रिपोर्ट का नतीजा दो दिनों के बाद आता है और भारतीय खिलाड़ी पांचवें दिन पृथकवास से आने के बाद दो दिनों तक कोचिंग दल के उस सदस्य के संपर्क में रहे थे। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी उस अवधि में कोच के साथ थे और ऐसा लगता है कि टीम वही से वायरस के चपेट में आ गई।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jasmeet

Related News

Recommended News