इंग्लैंड बनाम भारत महिला टेस्ट : शैफाली वर्मा ने राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड की बराबरी की

6/18/2021 5:13:24 PM

स्पोर्ट्स डेस्क : शैफाली वर्मा ने ब्रिस्टल में अपने डेब्यू टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 96 रनों की शानदार पारी के दौरान कई रिकॉर्ड बनाए। वह पहली भारतीय महिला क्रिकेटर बनीं जिन्होंने डेब्यू टेस्ट में 90 से ज्यादा स्कोर बनाए। इसी के साथ ही उन्होंने द वॉल कहे जाने वाले राहुल द्रविड़ के रिकाॅर्ड की भी बराबरी कर ली है। भारत के पूर्व कप्तान द्रविड़ ने भी डेब्यू टेस्ट में 90+ स्कोर बनाए थे। 

यहां दिलचस्प बात यह भी है कि राहुल द्रविड़ का डेब्यू भी इंग्लैंड के खिलाफ ही हुआ था।क्रिस लुईस की गेंद पर जैक रसेल के हाथों आउट होने से पहले उन्होंने 95 रन बनाए। उसी मैच में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष और भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भी टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था 131 रन बनाए थे। गांगुली के रिकाॅर्ड को हाल ही में न्यूजीलैंड के डेविन काॅन्वे ने तोड़ा है। 

द्रविड़ के रिकाॅर्ड की बराबरी के अलावा शैफाली अपने डेब्यू टेस्ट में छक्का लगाने वाली पहली भारतीय महिला भी बनीं। विशेष रूप से शैफाली ने टेस्ट पारी में एक महिला द्वारा सर्वाधिक छक्के लगाने के रिकॉर्ड की भी बराबरी की। उसने ब्रिस्टल में 2 बड़े छक्के लगाते हुए एलिसा हीली और लॉरेन विनफील्ड-हिल के संयुक्त रिकॉर्ड की बराबरी की। 

वहीं इस दौरान शैफाली वर्मा ने स्मृति मंधाना के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी भी की। शैफाली और मंधाना ने पहले विकेट के लिए 167 रन जोड़े और 1984 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में संध्या अग्रवाल और गरजी बनर्जी के 153 के रिकाॅर्ड को पीछे छोड़ा। यह घर से दूर महिला टेस्ट क्रिकेट में दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी भी थी। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Recommended News

static