ENG vs IND : इंग्लैंड में भारतीय टीम को इन चार पहेलियों को सुलझाना होगा

punjabkesari.in Tuesday, Jun 28, 2022 - 04:33 PM (IST)

बर्मिंघम : भारत सोमवार को बर्मिंघम पहुंच चुका है और एजबेस्टन टेस्ट की तैयारी कर रहा है। एक जुलाई से यह मैच शुरू होगा, जो 2021 में शुरू हुए पटौदी ट्रॉफी का आखिरी टेस्ट मैच होगा। पांच मैच की टेस्ट सीरीज में चार मैच पिछले साल खेले गए थे। भारत सीरीज में 2-1 से आगे है। हालांकि उसके बाद भारतीय टीम के लिए काफी कुछ बदल चुका है। भारतीय टीम को एक नया कप्तान और नया कोच मिल चुका है। लेकिन भारतीय टीम के चयन से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न हैं जिनका जवाब ढूंढना जरूरी है। 

अगर रोहित शर्मा नहीं खेलते हैं तो ओपन कौन करेगा? 

अगर कप्तान रोहित शर्मा फिट हो जाते हैं तब तो कोई चिंता ही नहीं है। वैसे में इस सवाल का औचित्य ही खत्म हो जाएगा। तब रोहित के साथ शुभमन गिल सलामी बल्लेबाजी करेंगे। गिल ने वॉर्म अप मैच में तीन बार बल्लेबाजी की थी। अगर रोहित कोविड 19 संक्रमण से ठीक नहीं हो पाते हैं तो भारतीय टीम को गिल का जोड़ीदार ढूंढना पड़ेगा। 

टीम के पास तीन विकल्प होंगे 

चेतेश्वर पुजारा, केएस भरत और मयंक अग्रवाल। मयंक मैच से तीन दिन पहले बर्मिंघम पहुंचेंगे। पुजारा ने इस से पहले भी ओपन किया है। पिछली बार उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू धरती पर गिल के चोटिल होने के बाद ओपन किया था। मयंक एक विशेषज्ञ ओपनर हैं, लेकिन उनके पास अभ्यास करने के लिए काफ़ी कम समय बचा है और ऐसे में जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और मैथ्यू पॉट्स का सामना करना आसान नहीं होगा। 

केएस भरत को टीम में दूसरे विकेटकीपर के रूप में शामिल किया गया था। उनको टीम में दो कारणों से शामिल किया जा सकता है। वह उन चुनिंदा बल्लेबाज़ों में से हैं, जिन्होंने अभ्यास मैच की दोनों पारियों में रन बनाया था। लेस्टरशायर के जिस बोलिंग अटैक के सामने वह बल्लेबाज़ी कर रहे थे, उसमें जसप्रीत बुमराह, प्रसिद्ध कृष्णा और नवदीप सैनी जैसे गेंदबाज़ शामिल थे। इसके अलावा उनके पास ओपन करने का एक लंबा अनुभव है। उन्होंने घरेलू क्रिकेट में 77 बार इस जिम्मेदारी को संभाला है। अगर उन्हें यह मौका मिल जाता है तो उनके लिए शायद यह कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी। 

क्या पुजारा को नंबर तीन पर बल्लेबाजी करना चाहिए? 

भारतीय चयनकर्ताओं ने इस साल की शुरुआत में श्रीलंका के खिलाफ खेली गई घरेलू श्रृंखला में अजिंक्य रहाणे के साथ पुजारा को टीम से बाहर रखने का निर्णय लिया था। उस वक्त पुजारा लंबे समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे थे। 2020 की शुरुआत से अब तक 20 टेस्ट में उनका औसत सिर्फ 26.29 था। अब भारतीय चयनकर्ता विराट कोहली के साथ मध्यक्रम में नए बल्लेबाज़ों की तलाश कर रहे थे। हालांकि हमेशा की तरह द्दढ़ पुजारा ने काउंटी चैंपियनशिप के डिवीजन 2 में ससेक्स के साथ एक छोटे से कार्यकाल में रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया। 

इसके साथ ही उन्होंने चयनकर्ताओं को एजबेस्टन टेस्ट के लिए टीम में उन्हें शामिल करने के लिए पर्याप्त कारण दिए। इसी कारणवश टीम में पुजारा को एक बार फिर से नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने का मौका दिया जा सकता है, जहां वह सालों से बल्लेबाज़ी करते आए हैं। हालांकि नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करने की सूची में हनुमा विहारी का भी नाम सामने आ सकता है। 

मार्च में श्रीलंका के ख़लिाफ़ उन्होंने तीसरे नंबर पर बल्लेबाज़ी की थी। इस दौरान अपनी तीन पारियों में उन्होंने एक अर्धशतक बनाया था। इसके अलावा अभ्यास मैच में लेस्टरशायर के खिलाफ उन्होंने दो बार नंबर तीन पर और एक बार नंबर चार पर बल्लेबाजी की। हालांकि इस मैच में उन्होंने 3, 20 और 23 का निजी स्कोर बनाया। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Related News

Recommended News