फिलीपींस को हराकर कोरिया पहली बार एएफसी महिला एशियाई कप के फाइनल में पहुंचा

punjabkesari.in Thursday, Feb 03, 2022 - 04:59 PM (IST)

पुणे : कोरिया ने गुरूवार को यहां सेमीफाइनल में बेहतरीन खेल की बदौलत दबदबा बनाते हुए फिलीपींस को 2-0 से हराकर पहली बार एएफसी महिला एशियाई कप के फाइनल में प्रवेश किया। कोरिया के लिए चो सो ह्युन और सोन ह्वा यिओन ने पहले हाफ में गोल किए जिससे टीम ने फिलीपींस की शानदार लय तोड़ दी जिसने पहली बार इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। 

कोरिया का सामना रविवार को फाइनल में गत चैम्पियन जापान और पूर्व चैम्पियन चीन के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा। फिलीपींस की टीम अपने प्रयासों के लिए गर्व कर सकती है कि उसने मैच में अपना सब कुछ दिया। अब वह पहली बार 2023 फीफा महिला विश्व कप में खेलने के लिए तैयारी में जुट सकती है। एएफसी एशियाई कप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली सभी टीमें सीधे विश्व कप के लिए क्वालीफाई करेंगी। 

कोरिया ने इससे पहले क्वार्टर फाइनल में टूर्नामेंट से पहले दावेदार मानी जा रही ऑस्ट्रेलियाई टीम को हराकर उलटफेर किया था। उसने शुरू से ही जरा भी समय बर्बाद नहीं किया और चौथे ही मिनट में गोल कर दिया। चो सो ह्युन ने किम हाई रि की कार्नर किक को फिलीपींस की गोलकीपर ओलिविया मैकडैनियल को छकाते हुए गोल कर दिया। हालांकि फिलीपींस की टीम इससे प्रभावित नहीं दिखी। पर कोरियाई खिलाड़ियों ने ज्यादातर समय गेंद पर कब्जा बनाये रखा। 

कोरियाई टीम बढ़त दोगुनी करने के प्रयासों में जुटी रही और 34वें मिनट में उन्हें इसका फल भी मिला जब सोन ने चो ह्यो जू के क्रास पर गोल कर दिया। दो गोल से पिछड़ने के बाद फिलीपींस के मुख्य कोच एलेन स्टाजसिच ने कई खिलाड़ियों को मैदान पर भेजा लेकिन वे कोरियाई गोलकीपर किम जुंग मि की चुनौती को पार नहीं कर सकीं। दूसरे हाफ में हालांकि कोरियाई टीम फिलीपींस की रक्षात्मक पंक्ति को भेद कर मौका हासिल नहीं कर सकी। पर 67वें मिनट में उन्हें एक अच्छा मौका मिला था लेकिन यह नाकाम हो गया। अंतिम 15 मिनट में कोरिया ने हमले तेज कर दिये लेकिन उसकी खिलाड़ी गोल नहीं कर सकीं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sanjeev

Related News

Recommended News