‘विदेशी टेस्ट सीरीज से पहले जो जख्मी हो जाए उसे कप्तान बनाना क्या सही फैसला है’

punjabkesari.in Saturday, Jan 29, 2022 - 02:27 PM (IST)

खेल डैस्क : टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सबा करीम का मानना है कि चयनकर्ता को रोहित शर्मा का भी विकल्प अब से ही तलाशने की जरूरत है। विराट कोहली के टी-20, वनडे और फिर टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ देने के बाद रोहित को संभावित तीनों फॉर्मेट की कप्तानी मिलना तय लग रहा है। लेकिन सबा करीम को लगता है कि बीसीसीआई को भविष्य के बारे में सोचना चाहिए। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि विदेशी टेस्ट सीरीज से पहले जो जख्मी हो जाए उसे कप्तान बनाना क्या सही फैसला है।

Saba Karim, Rohit Sharma, Cricket news in hindi, sports news, Team india, Test Series, टीम इंडिया, सबा करीम, रोहित शर्मा

सबा करीम ने कहा कि रोहित निश्चित रूप से एक नेता हैं और हाल ही में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि वह 35 साल के होने वाले हैं। करीम ने कहा कि रोहित की नियुक्ति सभी प्रारूपों में कप्तान के रूप में एक अल्पकालिक व्यवस्था होगी जिसमें दो विश्व कप और अगले 1.5 वर्षों में एक विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल निर्धारित है। भले ही रोहित शर्मा को तीनों प्रारूपों में कप्तान नियुक्त किया जाता है, लेकिन यह असाइनमेंट होगा 2023 क्रिकेट विश्व तक। 2023 में ही विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का चक्र भी समाप्त होना है। 

Saba Karim, Rohit Sharma, Cricket news in hindi, sports news, Team india, Test Series, टीम इंडिया, सबा करीम, रोहित शर्मा

बीसीसीआई के पूर्व चयनकर्ता ने कहा कि टीम प्रबंधन को एक ऐसे युवा खिलाड़ी को तैयार करने की जरूरत है जो रोहित के कार्यकाल के अंत में तैयार हो सके। उन्हें किसी ऐसे व्यक्ति को तैयार करने की जरूरत है जो तीनों प्रारूपों में खेलता हो। अभी रोहित ही एकमात्र विकल्प है क्योंकि केएल राहुल या ऋषभ पंत जैसा किसी खिलाड़ी तैयार नहीं किया गया है।

Saba Karim, Rohit Sharma, Cricket news in hindi, sports news, Team india, Test Series, टीम इंडिया, सबा करीम, रोहित शर्मा

बता दें कि पिछले कुछ वर्षों से रोहित फिटनेस चिंताओं से जूझ रहे हैं। वह न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया में कुछ महत्वपूर्ण टेस्ट इसी कारण चूक गए थे। सबा करीम ने इस पर कहा कि उनके (रोहित) लिए तीनों प्रारूपों में खेलना भी बड़ा काम है। वह कई बार चोटिल हो चुके है। इतना बड़ा फैसला लेने से पहले फिजियो, ट्रेनर और उनकी फिटनेस से जुड़े लोगों की सलाह लेनी चाहिए थी। हमारे पास ऐसा कप्तान नहीं हो सकता जो टेस्ट सीरीज की शुरुआत में चोटिल हो जाए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jasmeet

Related News

Recommended News